Homeayurvedictulsi kadha | घर पर आसान तरीको से आयुर्वेदिक काढ़ा कैसे बनाये

tulsi kadha | घर पर आसान तरीको से आयुर्वेदिक काढ़ा कैसे बनाये

आयुर्वेदिक तुलसी काढ़ा जो आपको देगा कोरोना वायरस से लड़ने में मदद

tulsi kadha – जैसा की आप सब जानते ही है की पूरी दुनिया में कोरोना वायरस फैला हुआ है। और अभी तक इस बीमारी को जड़ से ख़त्म करने के लिए कोई भी दवाई या इंजेक्शन नहीं बना है। और जो वेक्सीन बनी है इसके बारे में आपको तो पता ही होगा कोरोना वेक्सीन में बहुत ही कम मात्रा में कोरोना के ही सिम्टम्स होते है जिससे कोरोना के कुछ लक्षण दिखाई देते है जैसे बुखार का आना खांसी शरीर में दर्द का होना सर में दर्द नींद न आना बेचैनी लगना।

इस वेक्सीन का काम सिर्फ इतना ही होता है की हमारी शरीर के एंटी बॉडी सिस्टम या इम्म्यून सिस्टम कोड को कोरोना वायरस के कुछ कोड मिल जाए।

जिससे की हमारा इम्म्यून सिस्टम को पता चल जाये की ये किस कोड से लोक हो सकता है और फिर उसी प्रकार का हमारा शरीर कोड बनाना शुरू कर देता है। फिर जब कभी हमे कोरोना वायरस होता है तो इस वायरस को हमारा इम्म्यून सिस्टम लोक कर के वायरस को ही ख़तम कर देता है।


kerala ayurveda

काढ़ा पिने के फायदे- tulsi kadha

पर तब भी हमे ऐसी बहुत सी परेशानी आती है जिससे हमारा शरीर कमज़ोर भी हो जाता है पर इसी से बचने के लिए कुछ उपाए भी है जैसे की कोरोना वायरस में बहुत खांसी आती है और गाला भी जाम होने लगता है सर्दी और सीने में दर्द या जलन की भी समस्या होती है। ऐसे में काढ़ा पिने से गाला साफ होता है जाम की शिकायत नहीं होती है और सबसे बड़ी बात की कोई भी वायरस अगर गले में है तो वो ख़त्म हो जाता है। और हमारे शरीर का इम्मयूनिटी भी बढ़ती है।

tulsi kadha
tulsi kadha

kya aap apna wajan kam karna chahte hai just click here – GET YOUR CUSTOM KETO DIET PLAN 

The Natural Way to Supercharge and Maintain A Healthy Brain & Hearing

आगे हम जानेंगे की किन तरीको से हम काढ़ा बना सकते है। और काढ़ा बनाने का सारा सामान आपके किचन में हमेशा ही रहता होगा।

दोस्तों काढ़ा बनाना बहुत ही आसान है आप बहुत ही आसानी से काढ़ा बना सकते है और अपनी इम्मयूनिटी को बढ़ा भी सकते है। हम आपको ये भी बतायेगे की आपको काढ़ा कैसे पीना है और कब कब पीना है और दूसरे क्या क्या फायदे है –

 तुलसी काढ़ा –

tulsi kadha बनाने की सामग्री – (दो कप के अनुसार) 15 से 20 काली मिर्च, 1 छोटा टुकड़ा अदरक का ले, 1 छोटा टुकड़ा दालचीनी का ले, 8 से 10 लौंग, 10 से 15 पत्तिया तुलसी की ले, 3 इलाइची, 3 छोटा चम्मच गुड़ आप गुड़ का इस्तेमाल अपने टेस्ट के अनुसार कर सकते है।

आपको इस बात का ध्यान भी रखना है की आप चीनी का इस्तेमाल बिलकुल भी न करे, पर आप चाहे तो शहद का भी इस्तेमाल भी कर सकते हो। अगर आप शहद का इस्तेमाल कर रहे है तो आप इसे थोड़ा गुनगुने काढ़े में ही करे ज़्यादा गर्म में न मिलाये। और आपको अच्छा टेस्ट चाहिए तो आप कुछ बून्द नीबू की भी डाल सकते है।

विधि:-

tulsi kadha बनाने के लिए पहले सभी मसलो को हल्का और दरदरा सा कूट ले या पीस भी सकते है। लौंग – हमारे शरीर को शुद्ध करता है ये हमारे पाचन क्रिया को भी ठीक बना कर रखता है। और साथ ही साथ शरीर में इम्मयूनिटी को बढ़ता है। दालचीनी – हमारे शरीर से सारे ख़राब तत्वों को बहार निकलता है साथ ही ये केलोस्ट्रॉल को भी कम करता है।

इलाइची- भी हमारे पाचन क्रिया को ठीक रखता है, ये हमारे शरीर के तपिश को ठंडा करने में बहुत ही मदद करता है। काली मिर्च – काली मिर्च भी हमारे शरीर की इम्मयूनिटी को बढ़ता है। पाचन क्रिया को सही करता है।

और अगर हमारे शरीर में किसी वायरस का इंफेक्शन होता है तो ये हमारे शरीर को ठीक करने में मदद करता है। अदरक – अदरक से खांसी झुकाम और गले को साफ कर के इंफेक्शन को दूर करने में बहुत मदद करता है। इसके अलावा शरीर के जहरीले पदार्थ को बहार निकल कर सफाई करता है। इन सारी चीज़ो को हम दरदरा कूट कर मिक्स कर लेंगे।

और पढ़े how to be happy in Hindi do you want happiness? 2020

 


 

इसे बनाने के लिए – tulsi kadha

काढ़ा बनाने के लिए आप स्टील, पीतल, या ताम्बे के बर्तन में बना सकते है। हमे जितना भी काढ़ा बनाना है उसका दो गुना पानी ले हम 2 कप काढ़ा के विधि बता रहे है इसलिए 4 कप पानी ले और कुटी हुई सारी चीज़े डाल दे , फिर इसमें तुलसी के पत्ते भी डाल दे,

तुलसी के पत्ते हार्ट और शुगर के मरीजों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। फिर इसमें आप गुड़ भी डाल कर मिक्स कर दे, फिर हलके आँच में एक उबाल आने दे।

उबाल आने के बाद अच्छे से चम्मच से मिक्स करे और तब तक उबले जब तक ये इसका पानी आधा न हो जाए। जब काढ़ा आधा हो जाए तो इसे आप गैस से उतार ले और काढ़े को छान ले आपका tulsi kadha बिलकुल तैयार है।

इसे पीने के बाद आपके शरीर का इम्मयूनिटी बढ़ जाएगा जिससे कोरोना वायरस को आप दूर कर सकते है। इस काढ़े को पीने के कई फायदे है, – ये आपके पाचन क्रिया को सही करने में आपकी मदद करता है।

हार्ट के लिए फायदेमंद है, सर्दी झुकाम और खांसी को ठीक करने में भी आपकी मदद करता है। , शरीर में बढे हुवे यूरिक एसिड को कम करता है, काढ़ा पीने से आपका लिवर भी अच्छा बना रहता है। कैलोस्ट्रोल को कम करता है, इसके पीने के और भी बहुत से फायदे है।


काढ़ा पीने का सही तरीका –

इस काढ़े को किसी भी उम्र का वक्ति पी सकता है पर आप बच्चो को आधा कप ही दे और बढे 200 ml से 250 ml तक भी पी सकते है। जब भी आप काढ़ा पीये तो खली पेट ही पिये तब ये आपके शरीर में अच्छे से काम करेगा और दिन में आप इसे कभी भी पी सकते है।

और पढ़े – diabetes in hindi | डायबिटीज में क्या खाये और क्या न खाये

और पढ़े – weight gain calculator with supplements shakes 2021

AMIThttp://healthkikahani.com
Hello Friends, Mera Naam Amit Masih Hai Aur Ye WWW.healthkikahani.com Mera Blog Hai, Jis par Aapko Hindi Me Health Se Related Subhi Jankari Milegi.

5 COMMENTS

  1. Heya this is somewhat of off topic but I was wanting to know if
    blogs use WYSIWYG editors or if you have to manually code with HTML.
    I’m starting a blog soon but have no coding knowledge so I wanted to get advice from someone with experience.
    Any help would be greatly appreciated!

  2. I always used to study piece of writing in news papers but now
    as I am a user of net thus from now I am using net for posts, thanks to web.

  3. Good day! This is kind of off topic but I need
    some guidance from an established blog. Is it very hard to set up your own blog?
    I’m not very techincal but I can figure things out pretty quick.

    I’m thinking about creating my own but I’m not sure where to begin.
    Do you have any ideas or suggestions? Appreciate it

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments