HomeHEALTHY FOODSmint leaves in hindi | पुदीना के फायदे और उपयोग

mint leaves in hindi | पुदीना के फायदे और उपयोग

पुदीना के चमत्कारी फायदे

mint leaves in hindi- पुदीना जिसे हम पेपरमिंट के नाम से भी जानते है।

पुदीना की खुश्बू और इसका स्वाद हमारी शरीर में ताजगी भरने के काम आता है।

और पुदीने के अंदर विटामिन A की मात्रा बहुत अधिक होती है। जो हमारे शरीर को और भी हैल्थी और साथ ही साथ फिट भी रखता है।

wikipedia

पुदीना के फायदे – mint leaves in hindi

1 – सांसो को महकाये –

अगर आपके भी मुँह से बदबू आती है

या दातो से संबंधित रोग है तो ऐसे में पुदीना के पत्तो को पीस कर इसका चूरन ज़रूर बनाना चाहिए। इस चूरन से आपको अपने मुँह और दातो की कुछ देर अच्छे से सफाई करनी चाहिए। इससे आपके मुँह से संबंधित रोग है तो वो आसानी से दूर हो जाते है। और आपके मुँह से अच्छी और ताजगी भरी खुशबु आती है।

2 – पिंपल्स को करे दूर –

अगर आपके चेहरे में भी छोटे छोटे कील मुहासे है और दानो से परेशान है तो

आपको पुदीने का सेवन ज़रूर करना चाहिए।

क्युकी पुदीना एक ऐसा नेचुरल और आयुर्वदिक औषधि है जो आपके चेहरे के पिंपल्स को बहुत जल्दी ही दूर कर देता है। आपको इसके लिए पुदीने के कुछ पत्तियों को तोड़ लेना है और इसमें 2 चम्मच नींबू का रस मिक्स करना है। फिर इसे पीस ले फिर इस पेस्ट हो रोज अपने चेहरे पर लगाना है आप इसे 10 मिनट तक लगा कर रख सकते है। फिर ठन्डे पानी से आपने चेहरे को धो ले। इससे आपके चेहरे का जो डार्ट है वो आसानी से निकल जाता है। और अगर आपकी ऑइली त्वचा है तो वो भी दूर हो जायेगी। और आपके चेहरे के पिंपल्स धीरे धीरे दूर हो जायेगे। 

3 – कंट्रोल करे बी पी (bp)

mint leaves in hindi- पुदीना के सेवन से आपका बढ़ा या कम हुवा bp नियंत्रित रहता है।

अगर आप भी हमेशा अपने लो bp या हाई bp से परेशान है

तो आपको पुदीने का सेवन रोजाना करना चाहिए। हाई bp वाले मरीज को जब भी पुदीने का सेवन करे तो उन्हें पुदीने को बिना नमक और बिना चीनी के करना चाहिए। जो लोग लो bp से परेशान है उन लोगो को पुदीने की चटनी में सेंधा नमक डाल के इसका सेवन करना चाहिए। इससे आपका bp नियंत्रित रहेगा। तो अगर आपको भी हाई या लो bp की परेशानी है तो रोजाना पुदीने का इस्तेमाल ज़रूर करे।

4 – पेट के रोगो के लिए है लाभकारी 

अगर आपको भी पेट से ले कर कोई भी समस्या है तो।

या कोई भी बीमारी है या परेशानी है तो ऐसे में,

आपको पुदीने का सेवन रोजाना करना चाहिए।

आप चाहे तो पुदीने की चटनी बना कर खा सकते है। या तो फिर पुदीने के रस को अपनी किसी भी सब्जी डाल कर भी खा सकते है। और सबसे आसान होता है पुदीने का जूस बना कर पीना ये आपके पेट के लिए ही ज़्यादा फायदेमंद होगा और आपका पेट ठंडा भी रहेगा। जिससे की आपको कभी पेट में दर्द, पेट में गैस की समस्या,खाना न पचना,साँस की बदबू आना जैसी समस्या नहीं होती है

पुदीने के अंदर ऐसे एंटी बायोटिक गुण होते है।

जो आपके पेट के बैक्टीरिया को खत्म करने में काफी मदद करता है। आपको कोई भी पेट से संबंधित परेशानी होती है तो पुदीना आपके पेट को ठंडक भी पहुँचता है।

mint leaves in hindi
mint leaves in hindi

5 – साँस से संबंधित रोगो में है असरदार

ऐसे बहुत से लोगो है जिनको हमेशा कफ, खांसी, और बलगम की परेशानी रहती है 

कई दवाइया का भी इस्तेमाल करते है कुछ दिनों तक तो ठीक रहता है पर दुबारा परेशानी लौट कर आ जाती है यूही कुछ लोग बार बार परेशानी का सामना करते है ऐसे में आपको हमेशा पुदीने का सेवन करते रहना चाहिए। क्युकी पुदीने के अन्दर ऐसे विटामिन्स होते है। जो आपके मुँह के लिए माउथ फ्रेशनर का काम करता है। और इसके सेवन से जितने भी बैक्टीरिया आपके मुँह के अन्दर जाते है या बने रहते है वो पुदीना के सेवन करने से मुँह से साफ हो जाते है। और आपको किसी भी प्रकार का इंफेक्शन नहीं होता जिससे आपको कभी कफ या खांसी की परेशानी भी नहीं होती है।

6 – हिचकी को दूर करे

ऐसे तो हिचकी एक नेचुरल चीज़ है

पर कभी कभी हिचकिया बंद ही नहीं होती है।

जिसकी वजह से कभी कभी बहुत परेशानी होती है। इस लिए अगर आप अपनी हिचकियो से परेशान हो रहे है तो आपको भी पुदीने के रस को पीना चाहिए पुदीने के रस के अन्दर ऐसे ऐसे गुण होते है जो आपकी हिचकी को ठीक कर देती है। और आप चाहे तो पुदीने के पत्ते को ले कर उसमे थोड़ी से चीनी मिला कर ऐसे ही चबा सकते है। इससे भी आपकी हिचकियो पर बहुत असर होता है।

7 – पुदीने के सेवन से घाव का भरना 

अगर आपके शरीर में किसी भी प्रकार का घाव है

या जले कटे का निशान है।

तो उसको भरने में भी पुदीने का पेस्ट भी काफी फायदेमंद साबित होता है। पुदीने के ताजी पत्तियों को आप मिक्सी में बारीक़ पीस लीजिये फिर इस पेस्ट को आप अपने घाव पर लगा लीजिये। इससे आपके घाव में भी ठंडक मिलती है और आपका घाव भी बहुत जल्दी ठीक हो जाता है। जैसा की हमने आपको पहले बताया है की पुदीने में एंटी बायोटिक गुण होते है जिसकी वजह से आपका घाव भी जल्दी सुख कर ठीक होने लगता है।

8 – सर दर्द में आराम

हर इंसान को कभी न कभी तो सर दर्द की समस्या तो आती ही है।

और हम कभी कभी दवाइया का भी इस्तेमाल करते है

अपने सर दर्द को दूर करने के लिए। ऐसे में पुदीना भी एक कारगर उपाय है अपने सर दर्द को दूर करने लिए इसके लिए आपको बस पुदीने के पत्तो को पीस कर आपने माथे पर लगाना है और कुछ देर के लिए छोड़ देना है। आपका सर का दर्द दूर हो जायेगा।

mint leaves in hindi
mint leaves in hindi

कुछ ज़रूरी जानकारियाँ – 

1 – अगर किसी महिला का मासिकधर्म (पीरियड्स)

आने में प्रॉब्लम कर रहा हो या हर बार देरी से आता हो तो

आप पुदीने के रस का सेवन कर सकती है इससे समय से आपका पीरियड्स आना शुरू हो जाएगा।

2 – पुदीने के सेवन से आपके पेट में हमेशा ठंडक बनी रहती है।
3 – अगर आपका पेट दर्द हो रहा है तो ऐसे में आपको पुदीने की चाय पीना चाहिए।
4 – पुदीने के रस को थोड़ा थोड़ा कर के अपने मुँह के छालों पर लगाने से छाले जल्दी ठीक हो जाते है।
5 – अगर आपकी फटी एड़िया है तो आपको पुदीने के पेस्ट में औलिविल मिक्स कर के लगाना चाहिए इससे आपकी फटी एड़िया ठीक हो जाएगी।

और पढ़े – diabetes in hindi | डायबिटीज में क्या खाये और क्या न खाये

और पढ़े – anjeer (figs) khane ke fayade, upyog aur nuksan -2021

AMIThttp://healthkikahani.com
Hello Friends, Mera Naam Amit Masih Hai Aur Ye WWW.healthkikahani.com Mera Blog Hai, Jis par Aapko Hindi Me Health Se Related Subhi Jankari Milegi.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments