HomeHEALTHY FOODSkismis khane se aapko ho sakte hai ye 8 behtarin fayade

kismis khane se aapko ho sakte hai ye 8 behtarin fayade

kismis – तो हर किसी को पंसद होती है और इसके फायदे भी बहुत सारे होते है। किशमिश भी कई प्रकार की होती है जैसे – भूरे किशमिश,काले किशमिश,और हल्के हरे किशमिश, जिसके बारे में आगे जानेंगे और साथ ही साथ किशमिश के कई तरह के फायदों के बारे में भी जानेंगे –

किशमिश अंगूर को धुप में सूखा कर बनाया जाता है। अगर हम 7 दिन अंगूर को धुप में सूखा दे तो ये हल्के हरे रंग का किशमिश बन जाता है। और अगर हम 14 दिनों तक अंगूर को सुखाये तो भूरे रंग की किशमिश बन जाती है। और अगर हम 21 दिनो तक धुप में सूखाते है तो हमे काले रंग की किशमिश मिलती है। हरे रंग वाले किशमिश में कम गुण पाए जाते है, और जो भूरे रंग की किशमिश होते है उसमे थोड़े ज़्यादा गुण पाए जाते है।

और जो काले रंग का किशमिश होता है उसमे सबसे ज़्यादा गुण पाए जाते है। इसका स्वाद भी थोड़ा अलग-अलग होता है। इसकी तासीर गर्म होती है। किशमिश वात और कफ प्रकर्ति वाले लोगो को इसे सूखे ही खाना चाहिए। किशमिश में विटामिन B,विटामिन A,मैग्नीशियम,पोटेशियम,आयरन,कैल्शियम,और डाइट्री फाइबर अच्छी मात्रा में पाया जाता है। इसके साथ ही कार्बोहाइड्रेड का भी अच्छा गुण पाया जाता है।

wikipedia


किशमिश कब और कैसे खाये – kismis

जो लोग पिथ प्रकर्ति वाले लोग है यानि ज़्यादा गर्मी वाले लोग है ये किशमिश को पानी में भिगो कर खाये,  रात भर पानी में भिगो कर रखने से इसकी तासीर ठंडी हो जाती है जो आपको गर्मी नहीं करेगा। आप चाहे तो इसे सुबह शाम दोनो टाइम खा सकते है। अगर आप किशमिश को खाली पेट खाये तो ज़्यादा फायदा मिलेगा। इसमें ऐसे बहुत सारे पोषक तत्व पाए जाते जाते है जो हमारे शरीर की बीमारियों को दूर करने में मदद करती है।

इसकी मात्रा –

आप किशमिश को 10 से 15 ग्राम सुबह खा सकते है। 10-15 ग्राम दोपहर को खा सकते है। और 10-15 ग्राम शाम को भी खा सकते है। इतना रोजाना खा सकते है जो आपको कभी नुकसान नहीं करेगा। अगर आप किशमिश को सूखा खाते है तो इसकी तासीर गर्म करती है। और अगर आप भिगो कर खाते है तो इसकी तासीर ठंडी हो जाती है।

"<yoastmark


किशमिश खाने के फायदे – kismis

1- खून बढ़ने में फायदेमंद –(खून बढ़ने के तरीके)

जिन लोगो के शरीर में खून की कमी रहती है उन लोगो को हमेशा किशमिश खाते रहना चाहिए। इसमें आयरन,कॉपर,विटामिन B अच्छी मात्रा में होता है। जो शरीर में नए ब्लड सेल्स को बनाता है और शरीर में खून की मात्रा को बढ़ाते है। आप रोज रात को कम से कम 15 से 20 किशमिश पानी में भिगो कर रख दे और अगली सुबह खाली पेट इस किशमिश को खाये और इसका पानी भी पी ले ये तरीका आपके शरीर में खून की कमी को दूर करेगा और इसके साथ साथ कॉस्टिपेशन में भी आराम देगा।

2 – कॉस्टिपेशन –(कब्ज कैसे दूर करे)

किशमिश से आपके पेट की कई समस्या दूर हो जाती है जैसे की कॉस्टिपेशन, इसमें डाइट्री फाइबर होने के कारण शरीर के वेस्ट मटेरियल को सॉफ्ट कर के आसानी से बहार निकाल देता है। छोटे बच्चो को भी कॉस्टिपेशन से राहत दिलाने के लिए भी आप दे सकते है। बच्चो को देने के लिए आप 7 से 8 किशमिश ले और उबलते हुवे पानी में डाल दे और उसे एक घंटे के लिए ऐसे ही छोड़ दे, जब किशमिश फूल कर बड़ी हो जाए और पानी ठंडा हो जाये तो इसे पानी में ही दबा कर मिक्स कर ले और एक जूस की तरह बना ले फिर इसे छान कर पानी को अपने बच्चो को पीला दे। इसमें किशमिश की मात्रा बच्चो के उम्र के अनुसार बढ़ा भी सकते है और घटा भी सकते है।

3 – आँखों की रोशनी को बढ़ाता है – kismis (आँखों की रोशनी कैसे बढ़ाये) 

किशमिश में विटामिन A होता है जो हमारी आँखों की रौशनी को बढ़ाता है। इसके स्ट्रांग एंटी औक्सीडेंट आँखों के मसल्स को वीक करने वाले और नजर को नुक्सान पहुंचाने वाले फ्री रेडिकल्स को कम करते है। और हमारी आँखों को अंदर से और भी ज़्यादा स्वस्थ व तेज बनाते है। जो लोग हमेशा किशमिश का सेवन करते है उन्हें कभी चश्मे लगाने की ज़रूरत नहीं पढ़ती है।

4 – दांतो के लिए है फायदेमंद – (dant dard ka ilaj)

किशमिश को दांतो के लिए भी अच्छा माना गया है। इसमें कुछ ऐसे फाईट्रो केमिकल पाए जाते है जो बेड बैक्टीरिया के इंफेक्शन को रोक कर हमारे दांतो को ख़राब व सड़ने से बचाते है। इसमें कैल्शियम की अच्छी मात्रा होती है। जो की हमारे दांतो की जड़ो को और भी मजबूत बनाता है।

5 – शरीर की हड्डियों को ताकत दे – (kismis khane ke fayde)

किशमिश में कैल्शियम होता है इससे हमारी हड्डियों को मजबूती मिलती है, इसलिए अर्थराइटिस जैसे रोग कम होते है जैसे की – गठिया रोग कई सालो से लोगो में होती है और इससे कई लोग बहुत परेशान भी रहते है इसे कम करने के लिए आपको किशमिश का सेवन हमेशा करते रहना चाहिए जिससे की धीरे धीरे आपके गठिया का रोग दूर हो सकता है। महिलाओं की उम्र के साथ साथ उनकी हड्डिया बहुत कमज़ोर होने लगती है मेनू क्रॉस के दौरान महिलाओं की हड्डिया कमज़ोर होने लगती है जिसे ओस्ट्रोपोरेसिस कहा जाता है। लेकिन किशमिश के रोजाना सेवन से ओस्ट्रोपोरेसिस का खतरा कम हो सकता है।

6 – वजन कम करेने में फायदेमंद (weight loss, वजन कम करने के तरीके)

किशमिश खाने से वजन को कम भी कर सकते है और अपना वजन बढ़ा भी सकते है। पर ऐसा बिलकुल भी नहीं है की सिर्फ किशमिश खाने से ही आपका weight loss होना शुरू हो जायेगा पर अगर आप weight loss के लिए मेहनत करते है एक्सरसाइज करते है और अपनी डाइट का ध्यान रखोगे चीनी न खाया जाए तो उस केस में kismis की नेचुरल शुगर के रूप में आपके शरीर के एनर्जी को बरक़रार रख कर आपको हमेशा फिट रखने में मदद करेगा। अक्सर अधिक मोटे लोगो का मेटाबोलिजम का लेवल रेट लो होता है और खाना अच्छी तरह से डाइजेस्ट नहीं हो पाता है। जिसके कारण खाना शरीर को एनर्जी नहीं दे पाता और फैट में बदल कर शरीर में जमा होने लगता है। लेकिन किशमिश मेटाबोलिजम रेट को अच्छा कर के खाने को ठीक से पचाने में मदद करता है।

7 – वजन बढ़ाने में फायदेमंद (दूध में किशमिश खाने के फायदे) 

वजन को बढ़ाने के लिए kismis का बहुत बड़ा योगदान होता है, इसमें ज़रूरी विटामिन्स और मिनरल्स होते है जो आपके वजन को बढ़ाने में मदद करते है और आपके मसल्स को स्ट्रांग बना कर ताकत भरता है। कई लोग किशमिश को ऐसे ही खा लेते है या फिर भीगे हुवे खाते है, यदि आपको अपना वजन बढ़ाना है तो आप किशमिश को गर्म दूध में मिक्स कर ले, और जब किशमिश दूध में अच्छे से भीग कर फूल जाये तो इसे खाये और दुध पी ले। इससे आपको बहुत जल्दी फायदा मिलेगा। इनमे कैलोरीस अधिक होती है, अगर आप 20 से 25 किशमिश रोजाना खाते है तो आपका वजन बढ़ने लगेगा।

8 – स्किन को ताजा और जवा बनाये रखने में मदद करे (बुढ़ापा कैसे दूर करें)

किशमिश के कई सारे विटामिन्स, न्यूट्रिशन और प्रोटीन आपके त्वचा को ढीलापन व झुर्रियों से बचाता है kismis में विटामिन A होता है जो त्वचा के बाहरी परत के सेल्स के विकास में काम करता है और नए सेल्स की कोशिकाओं का निर्माण करता है जिसकी वजह से आपकी त्वचा कभी ढीली नहीं पढ़ती और खिली-खिली रहती है जिसकी वजह से आप हमेशा जवान दिखाई देते है। साथ ही साथ ये बालो को भी सॉफ्ट और मुलायम बनाने में मदद करता है, और सर के स्केल्प में नए सेल्स का निर्माण करता है जो सर की गन्दगी को बहार निकालने में मदद करता है जिससे स्केल्प के छेदो के रस्ते खुल जाते है। और नए बाल आने लगते है।

  • अगर आपको ये जानकारी अच्छी लगी तो आप हमे कमेंट ज़रूर करे और हमे बता की आपको इसमें क्या अच्छा लगा या किसी चीज़ की कमी हो तो वो भी हमे बताये हम उसे जल्द ही पूरा करेंगे। और अच्छी जानकारी के लिए बेल आइकॉन को ज़रूर दबाये।


READ MORE – 

health benefits of paneer in hindi 2021

immunity and chemotherapy, in hindi  

AMIThttp://healthkikahani.com
Hello Friends, Mera Naam Amit Masih Hai Aur Ye WWW.healthkikahani.com Mera Blog Hai, Jis par Aapko Hindi Me Health Se Related Subhi Jankari Milegi.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments