HomeHEALTH INFORMATIONHeadache in hindi - सर दर्द या माइग्रेन क्यों होता है 2021

Headache in hindi – सर दर्द या माइग्रेन क्यों होता है 2021

सर दर्द या माइग्रेन क्यों होता है ?

Headache in hindi migraine -migraine के लक्षण और उपाय क्या है और सर दर्द क्यों होता है

जब भी हमे सर में तेज दर्द होता है तो हम परेशान हो जाते है की इतना दर्द क्यों हो रहा है सर दर्द के बहुत से कारण हो सकते है। – आज हम इसी बारे में बात करने जा रहे है

wikipedia

सर दर्द के बहुत से कारण होते है पर सर दर्द के होने का सबसे आम कारण है टेंशन (headache) टेशन की वजह से ही सर में दर्द की शुरुवात होती है। और ये इस लिए होता है क्युकी जब आप टेंशन लेते है तो आपके आपके सर के जितने भी मसल्स होते है उनमे स्टिफनेस हो जाती है

और उनमे ज़ोर पड़ने लगता है। जैसे आपके शोल्डर में नेक, सर के पास मसल्स में और आपके चेहरे या जबड़ो के मसल्स में। और इसी मसल्स की जकड़न की वजह से धीरे-धीरे आपके सर में दर्द होता है। (Headache in hindi)

ऐसे समय में आपको ये कभी पता भी नहीं चलता है की आपके सर के बाकि मसल्स में खिचाव हो रहा है क्युकी सबसे ज़्यादा आपका सर दर्द दे रहा होता है। आपका पूरा ध्यान सर दर्द पर ही होता है। और कभी कभी ये दर्द सर के पीछे से होता हुवा सामने की ओर आता है।

headache होने का कारण – Headache in hindi

ज़्यादा तर ये – तनाव (stress), डिप्रेशन (depression), चिंता (anxiety) की वजह से होता है

आपको ये कई प्रकार से हो सकती है जैसे – आप कुछ दिन में ही बहुत ज़्यादा काम कर रहे हो या काम का बहुत तनाव हो तो भी हो सकता है। या फिर आप बहुत कम सो रहे है या आपको रातो में नींद नहीं आती हो, या आप स्मोकिंग और शराब का सेवन बहुत ज़्यादा ही कर रहे हो और खाना कम खा रहे है या कभी कभी खाने का मन न हो तो आप नहीं खाते हो, या चाय – कोफ़ी ज़्यादा ले रहे है,तो आपको टेंशन (headache) हो सकता है।

Headache in hindi
Headache in hindi

और पढ़े- पेट दर्द और गैस की दवा 

और पढ़े –  कैंसर कितने प्रकार का होता है

सर में दर्द के कई कारण –

जैसे की (1 – माइग्रेन), (क्लस्टर हेडाचे), (साइनस हेडाचे), या बुखार या कोल्ड की वजह से भी हो सकता है। सर दर्द फ्लू के कारण भी हो सकता है। और भी कई खतरनाक कारण भी हो सकता है ज़्यादा ब्लड प्रेशर बढ़ जाए तो भी सर में दर्द हो सकता है। या ब्रेन में ट्यूमर, या किसी प्रकार का इंफेक्शन हो या ब्लीडिंग हो रही हो तो भी सर में तेज दर्द हो सकता है।

माइग्रेन का दर्द असहनीय होता है

माइग्रेन में बहुत ज़ोर से सर दर्द होता है, इसमें कभी कभी किसी अधिक लाइट वाली चीज़ो को देखने से होता है या बहुत तेज आवाज की वजह से होता है माइग्रेन में बहुत तेज पल्सेटिंग होता है तेज़ सर दर्द होता है।माइग्रेन में सर का दर्द शुरू होने से पहले आपके सर के किसी भी एक भाग में दर्द पहले शुरू होता है कोई भी एक साइड में फिर धीरे धीरे सर के दोनो तरफ दर्द शुरू हो जाता है। माइग्रेन में ओरा नाम का एक चीज़ भी होता है जिसकी वजह से रोगी को पहले से पता चल जाता है की उसको सर में तेज़ दर्द शुरू होने वाला है।

इसे कहते है ओरा। माइग्रेन किसी किसी में ट्रिगर्स भी होते है सर दर्द के, जिस से माइग्रेन का दर्द होता है। जैसे कैफीन, चोकलेट, कोई फ़ूड कुछ इस तरह के खाना खाने से आपको ट्रिगर आ सकता है या तो शराब का सेवन करने से या कम सोने से भी ट्रिगर हो सकता है।

क्लस्टर हेडाचे क्या होता है Headache in hindi

Headache in hindi
Headache in hindi

क्लस्टर हेडाचे भी बहुत तेज दर्द हो सकता है इसका दर्द लगभग 1 घंटे तक भी हो सकता है। और ये दर्द रोजाना हो सकता है इस दर्द में समय बंधा होता है जैसे की किसी को शाम हो दर्द हो रहा हो तो रोज शाम को ही दर्द होगा या किसी को सुबह सुबह दर्द हो रहा हो तो सुबह ही होगा और ये महीनो में कई दिनों तक हो सकता है। फिर ये अपने आप ही ठीक भी हो जाता है। किसी किसी के केस में ये दर्द कई महीनो तक वापिस नहीं आता है पर कभी कभी हर महीने ये दर्द हो सकता है Headache in hindi

हेडाचे (headache) को कैसे ठीक किया जाए

आपको कुछ ऐसी चीज़े बतायेगे जिससे आप घर पर ही हेडाचे को ठीक या कम कर सकते है। जैसे की अगर आपको हेडाचे हो रहा है तो आप पानी ज़्यादा पीजिये क्युकी अगर आपको हेडाचे(headache) के साथ साथ उलटी भी आ रही है तो आपको डिहाइड्रेड नहीं होना है,

आपको एक शांत और अँधेरे कमरे में आराम करने की ज़रूरत होगी, फिर एक ठंडा कपड़ा अपने सर पर रखे और आपको कोई भी मेडिटेशन आता हो जैसे योगा आप वो कर सकते है। अपने दिमाग को शांत रखने का प्रयास करे। इसके आलावा आप दवाई भी खा सकते है , अगर आपको किसी बात से टेंशन है और उसकी वजह से आपका सर में दर्द हो रहा हो तो आप ब्रूफेन या पैरासिटामोल भी खा सकते है।

और पढ़े – 10 तरीके हार्ट अटैक से बचने के

और पढ़े – weight gain calculator

हॉस्पिटल कब जाना चाहिए

➤  अगर आपको 3 से ज़्यादा दिनों तक सर में दर्द है तो आपको तुरंत हॉस्पिटल जा कर अपने डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

आपका दर्द बहुत ज़्यादा बढ़ गया है तो आपको टेस्ट करवाने की ज़रूरत है अगर आपको दर्द की वजह से आपके काम में बाधा रही है तो आपको टेस्ट करवाना ज़रूरी है। इस बात का ज़रूर ख्याल रखे की अगर आपको दर्द के साथ चक्कर आना या हाथ पैर में कमजोरी आ गई है या कप रहे है या आपको बेचैनी लग रही हो तो आपको तुरत एडमिट हो जाना चाहिए क्युकी ऐसे लक्षण दिमाग की किसी बड़ी बीमारी का संकेत हो सकता है। जैसे इंफेक्शन, ट्यूमर,खून का बहना आदि।

मेनिनजाइटिस 

Headache in hindi अगर आपको सर दर्द के साथ साथ भुखार भी आ रहा है और गर्दन में स्टीफन्स भी है इसे आप चेक भी कर सकते है जैसे – अपने ठोड़ी (chin)को अपने छाती में टच करके देखिये अगर टच हो रही है तो आपके गर्दन में स्टीफन्स नहीं है और अगर आपकी गर्दन में स्टीफन्स है तो आपको मेनिनजाइटिस हो सकता है (दिमाग का इंफेक्शन) इसमें आपको तुरंत हॉस्पिटल में एडमिट होने की ज़रूरत होगी इलाज न करने पर जान लेवा भी हो सकती है।

बहुत ज़्यादा सर दर्द हो तो आप इसे आम सर दर्द न समझे ये कोई बड़ी बीमारी का कारण भी हो सकता है ये सारी बाते आपको घर में और दुसरो को भी बतानी है ताकि कोई भी सर दर्द का कारण समझे और अपना सही समय पर इलाज करवा सके।

अगर आपको इस बारे में कोई सवाल हमसे पूछना चाहते है तो आप हमे कमेंट भी कर सकते है या कोई सवाल हो तो हमसे पूछ स

कते है हम जल्दी ही उसका जवाब देंगे।

AMIThttp://healthkikahani.com
Hello Friends, Mera Naam Amit Masih Hai Aur Ye WWW.healthkikahani.com Mera Blog Hai, Jis par Aapko Hindi Me Health Se Related Subhi Jankari Milegi.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments