HomeHEALTH INFORMATIONGathiya rog | arthritis गठिया रोग क्या होता है 2021

Gathiya rog | arthritis गठिया रोग क्या होता है 2021

गठिया रोग और उससे होने वाले नुकसान 

Gathiya – आज भी ऐसे बहुत से लोग है जिन्हे गठिया रोग के बारे में ज़्यादा जानकारी नहीं है।

गठिया रोग को आर्थराटीस के नाम से भी जाना जाता है।

इसमें कई प्रकार के गठिया रोग होते है लगभग 100 से भी ज़्यादा प्रकार के होते है। अगर किसी को गठिया रोग होता है तो उस व्यक्ति को हमेशा चलने फिरने में बहुत परेशानी होती है या बहुत ज़्यादा दर्द होता है।

wikipedia

गठिया क्या होता है?

गठिया रोग प्यूरिन नाम का एक प्रोटीन के मेटाबोलिज्म की वजह से होता है।

जब भी खून में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाती है तो जब कोई व्यक्ति उठता है

या बैठता है या सोता है तो ये यूरिक एसिड एक जगह जमने लगता है। और ये धीरे धीरे गठिया का रूप ले लेता है।दोस्तों यूरिक एसिड हमारे खाने में और कई तरह के भोजन से बनता है,arthritis यानी गठिया रोग एक ऐसी बीमारी है जो व्यक्ति के जोड़ो में होता है या जोड़ो में दर्द रहता है, और दर्द के साथ साथ सूजन भी आ जाती है। इसके अलावा जहा पर गठिया हुवा है वह पर गाठे भी बन जाती है जिस वजह से इसे गठिया कहा जाता है। और गठिया शरीर के किसी भी एक हिस्से से शुरू होता है और धीरे धीरे शरीर के सभी जोड़ो में सूजन और दर्द होना शुरू हो जाता है। इसमें सभी जोड़ो में दर्द के साथ साथ जोड़ो का मूवमेंट भी कम हो जाता है जिसकी वजह से व्यक्ति को चलने फिरने में बहुत परेशानी होती है।

गठिया होने के कारण- Gathiya

"<yoastmark

1 . शरीर में यूरिक एसिड का बढ़ जाना

गठिया रोग होने का सबसे बड़ा कारण है हमारे शरीर में यूरिक एसिड का बढ़ना जब हमारे शरीर में बहुत ज़्यादा यूरिक एसिड बढ़ जाता है तो इससे हमारे हड्डियों के जॉइन्ट्स यानि जोड़ो में छोटे – छोटे यूरिक एसिड के क्रिस्टल्स जमने लगते है। और इसकी वजह से जोड़ो में दर्द और सूजन होने लगता है। हमारे शरीर को सभी प्रकार के पोस्टिक प्रदार्थो की ज़रूरत होती है। इसमें कैल्शियम की मात्रा भी होती है। जैसा की आपको पता ही होगा की कैल्शियम
का काम हमारे शरीर की सभी हड्डियों हो मजबूती प्रदान करता है।

2 . और अगर हम कैल्शियम वाले भोजन का इस्तेमाल नहीं करते है तो इस कारण से भी गठिया रोग हो सकता है.

3 . वंशज की वजह से गठिया, – किसी किसी में वंशज यानि पीढ़ी दर पीढ़ी चलती है ,इसमें अर्थरिटिस यानि gathiya रोग भी शामिल है अगर आपके परिवार में किसी भी सदस्य को गठिया रोग है तो आपको भी हो सकता है।

4 . अधिक आराम कर जीवन वैतित करना – अगर आपका जीवन बहुत ज़्यादा आरामदायक है आप कोई काम या फिजिकल एक्टिविटी नहीं करते हो या ज़्यादा चहल पहल नहीं करते है तो इस वजह से भी आपको ये gathiya रोग होने का खतरा हो सकता है।

मोटापा बड़ा कारण –

5 . आपके शरीर में इम्यून सिस्टम की कमी से गठिया रोग का हो जाना – अगर आप बहुत ज़्यादा कमज़ोर है या आपके शरीर में शक्ति की या किसी भी प्रकार से ऊर्जा की कमी है या शरीर में इम्मून सिस्टम कमज़ोर है तो gathiya रोग हो सकता है। अच्छे इम्मून सिस्टम जब शरीर में होता है तो शरीर किसी भी बाहरी रोग या वाइरस से आसानी से लड़ सकता है।

6 . मोटापे की वजह से गठिया – वजन का ज़्यादा हो जाना भी गठिया का सबसे बड़ा कारण होता है। जब बहुत अधिक शरीर का वजन या भार हो जाता है तो सारा भार आपके पैरो पर और आपके घुटनो पर पड़ता है। और इतना भार उठाने में परेशानी होती है और अधिक ज़ोर पढ़ने से घुटनो में दर्द होने लगता है। इसलिए मोटापा भी गठिया रोग होने का बड़ा कारण होता है।

7 . बढ़ती उम्र गठिया का कारण – जैसे जैसे हमारी उम्र बढ़ती चले जाती है वैसे वैसे शरीर भी कमज़ोर होने लगता है हड्डियों में कैल्शियम की कमी होने लगती है और शरीर के मसल्स भी वीक होने लगती है,जिसकी वजह से हमारे शरीर के जोड़ो का काम करने में परेशानी होती है। या हम ये भी कह सकते है की शरीर में शक्ति की कमी हो जाती है। इसलिए अधिक उम्र वालो को भी गठिया रोग हो सकता है।

और पढ़े – HEALTH EDUCATION part 1 – Effects of Heat or Cold 

और पढ़े – calcium-symptoms of calcium deficiency 

धूम्रपान और शराब का सेवन करने से gathiya

8 . धूम्रपान और शराब का सेवन करने से – आपको तो पता ही होगा की धूम्रपान से फेफड़ो को बहुत नुकसान होता है साथ ही हमारे हड्डियों पर भी बुरा असर डालता है और शराब ज़्यादा पिने से शरीर का इम्मून सिस्टम कमज़ोर होता चला जाता है। इसलिए धूम्रपान और शराब का सेवन करने वालो को भी गठिया रोग हो सकता है

9 . पैरो में या घुटनो में चोट लगने से – कई बार ऐसा भी होता है की हमारे घुटनो में चोट लगने से भी गठिया हो सकता है।

Gathiya

गठिया रोग होने के symptoms

1 – गठिया को हम कुछ इस प्रकार से पहचान सकते है। – जब भी गठिया होता है तो जोड़ो में बहुत दर्द होता है। अगर आपको भी जोड़ो में लम्बे समय तक दर्द है और इसका इलाज न करवाए तो इससे बहुत ज़्यादा नुकसान हो सकता है।

2 – जोड़ो में अकड़न कभी कभी रोगी को बहुत दिनों से जोड़ो में अकड़न से शिकायत भी होती है , पैरो में गठिया का असर आपको सबसे पहले देखने को मिल सकता है.

3 – पैरो के जोड़ो में सूजन – पैरो में सूजन का आना या आपके अंगूठे में एक साइड से फूल जाना या एक गाठ का बन जाना गठिया हो सकता है अगर इसका शुरू में इलाज न करवाया जाए तो इससे आपके उंगलियों के बिच में यूरिक एसिड जमा होने लगता है। इससे आपके उंगलियों में बहुत ज़्यादा सूजन हो जाती है। और बहुत ज़्यादा दर्द भी होता है।

4 – elbow में सूजन आना – कई बार हमारे elbow में सूजन आ जाती है और बहुत ज़्यादा दर्द होने लगता है।

5 – घुटनो में सूजन का हो जाना – अगर किसी वक्ति को घुटनो में सूजन आ जाती है तो इसे आप बिलकुल भी नजर अंदाज न करे क्युकी ये भी गठिया रोग का कारण हो सकता है।

6 – अगर आपको भूख कम लग रही है तो – अगर आपको खाना खाने का बिलकुल भी मन नहीं करता है या कम भूख लगती है कम खाना खाते है तो ये बाद में आपको गठिया रोग दे सकता है।

गठिया रोग से बचने के घरेलु उपाय –

1 – मेथी दाना का सेवन – आपको रोजाना मेथी दाना का का सेवन करना होगा इसके लिए आप 2 छोटी चम्मच मेथी दाना को रात भर पानी में भिगो कर रख दे और जब आप सुबह उठेंगे तो इस पानी को पी ले और इस मेथी दाना को आप अच्छे से जबा जबा कर खा ले। इससे बहुत जल्दी Gathiya रोग से आराम मिलेगा।

2 . दालचीनी का रोजाना सेवन – दालचीनी में एंटीऑक्सीडेंट और दर्द में राहत देने वाले गुण होते है। जो Gathiya रोग से होने वाले दर्द से राहत देते है। इसके लिए दालचीनी को अच्छे से पीस ले फिर आप एक कप गर्म पानी में एक चम्मच दालचीनी का पाउडर और एक चम्मच शहद मिला ले और इसका सेवन करे रोजाना सेवन करने से आपको बहुत फायदा मिलेगा दर्द से।

3 – लहसुन का करे रोजाना सेवन – अगर आप खाली पेट 3 से 4 लेहसुन का को अच्छे से जबा जबा कर खाये और थोड़ा गर्म पानी पिए तो आपको इससे भी काफी फायदा मिलेगा।

4 – घर पर बनाये दर्द के लिए पेस्ट – इसके लिए आपको – सेंधा नमक ,जीरा,हींग,पीपल,काली मिर्च,और सोंठ इन सभी में 2 -2 gm ले कर पीस ले फिर इस पेस्ट को केस्ट्रल आयल यानि अरंडी के तेल में भून ले फिर इस को आप किसी भी बोतल में भर के कर दे। जब भी आपको दर्द हो तो आपको दर्द वाली जगह पर लगाना है इससे आपको दर्द पर बहुत आराम मिलेगा।

5 – अदरक – अदरक में एंटीइंफ्लामेन्ट गुण होते है। जो गठिया रोग और दर्द में बहुत ही फायदे मंद होता है। – इसके लिए आपको 6 चम्मच सोंठ पाउडर चाहिए ,6 चम्मच काली जीरे का पाउडर ,3 चम्मच काली मिर्च का पाउडर डाल कर मिला ले। इसे आप रोजाना आधा चम्मच सेवन करना है

ये थे कुछ घरेलु उपाय जिसके इस्तेमाल से आप Gathiya रोग को ख़तम या कम कर सकते है।

गठिया रोग में क्या नहीं खाना चाहिए- gathiya

गठिया रोग में आपको बहुत से ऐसी चीज़े है जिनको आपको खाने से बचना चाहिए।

➸आलू का सेवन न करे।
➸चावल का सेवन न करे।
➸तली हुई चीज़े का खाये।
➸जिन लोगो को गठिया का रोग है उन लोगो को ज़्यादा चीनी का सेवन नहीं करना चाहिए।
➸चाय या कॉफी का भी सेवन न करे क्युकी इसमें कैफीन होता है जो आपके दर्द को बढ़ा सकता है।

और आप ये भी याद रखिये की गठिया रोग हो तो ठण्ड के मौसम में ठन्डे पानी से नहीं नहाना चाहिए इससे आपके जोड़ो का दर्द बढ़ सकता है।

आपको ये जानकारी कैसी लगी हमे कमेंट कर के ज़रूर बताये। thank you

AMIThttp://healthkikahani.com
Hello Friends, Mera Naam Amit Masih Hai Aur Ye WWW.healthkikahani.com Mera Blog Hai, Jis par Aapko Hindi Me Health Se Related Subhi Jankari Milegi.

1 COMMENT

  1. Great post. I used to be
    checking continuously this weblog and I
    am impressed! Very useful information specially
    the remaining part :
    ) I deal with such info much.
    I used to be looking for this particular info for
    a very lengthy time.
    Thanks and best of luck.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments