HomeGHARELU NUSKHEgarlic in hindi लहसुन खाने के फायदे और नुकसान 2021

garlic in hindi लहसुन खाने के फायदे और नुकसान 2021

विषय सूची hide
1 लहसुन खाने से कई बीमारियों में होती है रोकथाम
1.1 लहसुन के फायदे और नुकसान – garlic in hindi

लहसुन खाने से कई बीमारियों में होती है रोकथाम

garlic in hindi – आपको लहसुन के बारे में तो पहले से ही पता होगा पर ऐसी बहुत सी बाते है-

जो आपको जानना चाहिए।

लहसुन का इस्तेमाल तो वैसे सब्जियों में किया जाता है ताकि सब्जियों का और भी अच्छा स्वाद आये पर लहसुन आपने खाने का स्वाद को ही नहीं बढ़ता है बल्कि आपके शरीर के लिए भी एक औषिधि के काम में भी आता है।

wikipedia

लहसुन (garlic) का वैज्ञानिक नाम है – allium sativum

वैसे तो लहसुन में बहुत से रोगो को ठीक करने वाले गुण होते है इसमें एलिसन नाम का मुख्य तत्व पाया जाता है जो (एंटी बेक्टेरियल एंटी वाइरल एंटी फंगल,और एंटी ऑक्सीडेंट) का काम करता है

लहसुन में मैग्नीशियम,केशियम,आयरन,प्रोटीन,विटामिन,खनिज,लवण,फास्फोरस,विटामिन A,विटामिन B,विटामिन C, पोटेशियम,ज़िंक,और कॉपर भी पाया जाता है।

लहसुन हमारे शरीर की रोग प्रतिरोग की क्षमता को बढ़ता है। लहसुन हमारे लिए बहुत ही ज़रूरी है हमे किसी भी तरह से अपने खाने में लहसुन का इस्तेमाल करना ही चाहिए लहसुन को तामसिक भोज्य माना जाता है –

फिर भी हमे इसका रोज़ाना सेवन करना चाहिए ,क्युकी ये हमे कई बीमारियो से बचाता है। और बहुत सी बीमारियों को ये रोकने में मदद करता है,

औषिधियो गुणों से भरपूर इस लहसुन में ऐसे भी औषिधियो गुण है जो हमारे कई बीमारियों को जड़ से ख़त्म करने में रामबाढ़ का काम करता है। लहसुन खाने के तो बहुत से फायदे है पर कुछ नुकसान भी है।

लहसुन के फायदे और नुकसान – garlic in hindi

लहसुन के फायदे –

garlic in hindi
garlic in hindi

कैंसर के बचाओ – लहसुन में पाए जाने वाले सेलिनियम कैंसर से लड़ने में बहुत मदद करता है। इसके अलावा इसमें डायरी सल्फाइड पाया जाता है जो ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को रोकने में मदद करता है। लहसुन पेट के कैंसर और ट्यूमर को रुकने में सहायक प्रदान करता है।

इसलिए हमे अपने रोजाना खाने में लहसुन का इस्तेमाल करते रहना चाहिए जिससे हमे कैंसर जैसे बीमारी का खतरा कम से कम रहे और लहसुन के रोजाना सेवन से पेट की नली का कैंसर और स्तन कैंसर की सम्भावना भी बहुत कम हो जाती है।

 

 

किडनी इन्फेक्शन कम होना – एक शोध में पता चला है की लहसुन के सेवन करने से किडनी में होने वाले इन्फेक्शन से बचाओ करता है। क्युकी इसमें पाए जाने वाले तत्व किडनी में होने वाले संक्रमण को रोकने का काम अच्छे से करते है।

 

 

 

बढ़ते शुगर को कम करता है – अगर आपको भी हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है तो अपने खाने में रोजाना लहसुन का इस्तेमाल करे।

क्युकी लहसुन में बहुत अधिक मात्रा में शुगर को कम करने की क्षमता होती है अगर आप भी शुगर की बीमारी से परेशान है तो आपको रोजाना 2 से 3 कच्चे लहसुन का सेवन करना चाहिए

ये शुगर के स्तर तो निरन्त्रित करता है लहसुन के रोजाना सेवन से शुगर के रोगियों को गलूकोज को निरन्त्रित करने में सहायता करती है। ये खून में इन्सुलिन के स्तर को बढ़ता है, जिससे हमारा शरीर स्वथ रहता है।

garlic in hindi
garlic in hindi
अस्थमा से राहत -(garlic in hindi) – लहसुन अस्थमा के रोगियों के लिए बहुत ही लाभकारी है ,एक प्रयोग से साबित हुआ है की लहसुन दमा के प्रभाव को कम करने में मदद करता है। लहसुन अस्थमा के इलाज में बहुत ही असरदार साबित होता है।
30 मिली लीटर दूध में लहसुन की 5 कलिया डाल कर इसे उबले और इसका सेवन करे , इस तरह इसे सेवन करने से दमे के सुरुवाती अवस्था में काफी मदद मिलती है , और अदरक की चाय में लहसुन की 2 पीसी कलिया को मिला कर पिने से अस्थमा निरन्त्रित रहता है।

 

रुसी और बालो का झड़ना कम करेआज कल रुसी और बालो का झड़ना एक आम समस्या हो गई है,क्या आपको पता है लहसुन में पाए जाने वाले (एंटी बायोटिक ,एलिसिन,एंटी ऑक्सींडेंट,एंटी फंगल,एंटी बैक्टीरिया,और एंटी इंफ्लामेन्ट्री) के गुण बालो का झड़ना और बालो में रुसी की समस्या को कम करता है। लहसुन की 5 कलियों को थोड़ा पानी डाल कर पीस ले और उसमे 10gm शहद मिला कर इसका सुबह शाम सेवन करे। इस उपाए से आपके सफ़ेद बाल काले होने लगेंगे। और आपके बालो का झड़ना भी कम हो जायेगा। 

 

 

garlic in hindi
garlic in hindi

झुर्रियों को कम करने से मदद करता है – लहसुन में पाए जाने वाले एंटी इंफ्लामेन्ट्री,एंटी ऑक्सींडेंट गुण आपकी त्वचा की झुर्रियों को कम करने में सहायक होते है। आज कल के हमारे गलत खान पान की वजह से कई बार समय से पहले ही हमारे शरीर पर झुर्रिया आ जाती है। इससे बचने के लिए हमे रोजाना लहसुन का सेवन करना चाहिए। इससे हमारी त्वचा हमेशा चमकदार और सॉफ्ट रहेगी। लहसुन हमारे त्वचा को सूर्य के नुकसान दायक किरणों से नुकसान से भी बचता है।

दात और खुजली से राहत – जैसे की हम सभी जानते है की दात या खुजली होने का कारण है हमारे शरीर में होने वाले फंगस जैसे की आपको पहले ही बताया है हमने की लहसुन में एंटी फंलाग और एंटी बैक्टीरियल होता है जो की खुजली को कम करने में मदद करता है। आपको बता दे की लहसुन से आपकी दात और खुजली को ख़तम नहीं किया जा सकता पर इसे कम ज़रूर किया जा सकता है।

चेहरे के पिम्पल्स और मुहासे से राहत – हम ऐसी बहुत सारी चीज़े खाते है जिससे बाद में हमारे चेहरे पर इसका असर दिखाई पड़ता है जो कभी कभी मुहासे के रूप में भी बाहर आते है। लहसुन का रस हमारी शरीर की गन्दगी को त्वचा के छोटे छोटे छेदो से बहार निकलता है।
लहसुन का सेवन करने से कील मुहासे कम या न के बराबर होते है। लहसुन की 2 कलियों को पीस कर उसमे 1 छोटा चम्मच हल्दी पाउडर मिला कर इसकी क्रीम बना ले फिर इस क्रीम को सिर्फ अपने मुहसो पर लगाए धीरे-धीरे कील और मुहासे ठीक होने लगेंगे।

ठण्ड और भुखार में मिलती है राहत ठण्ड और बुखार में भी लहसुन का सेवन करने से काफी फायदा मिलता है। जब भी आपको बहुत ज़्यादा ठण्ड लगे या आपको बुखार हो तो आप लहसुन की 5 कलियों को सरसो के तेल में गरम करके अपने शरीर पर लगाए। आपको बहुत राहत मिलेगी।

रोग प्रतिरोग क्षमता को बढ़ता है – लहसुन में पाए जाने वाले एंटी ऑक्सीडेंट तत्व के कारण लहसुन हमारे शरीर की रोग प्रतिरोग की क्षमता को बढ़ता है और किसी भी बाहरी संक्रमण से लड़ने में हमारे शरीर को मदद करता है।

दिल की बीमारियों से बचाता है – लहसुन के रोजाना सेवन से दिल के रोगो से लड़ने में बहुत मदद मिलती है। ये हाई ब्लड प्रेशर,केलोस्ट्रोल,शुगर जैसे बीमारियों से लड़ने में हमारी मदद करता है। लहसुन दिल की बीमारियों के साथ साथ हमारे तनाव को भी निरन्त्रित करता है।

जिन्हे दिल की बीमारी हो उनके लिए लहसुन बहुत फायदेमंद होता है। ये केलोस्ट्रोल के स्तर को कम कर के हार्ट अटेक और हार्ट ब्लॉकेज को रोकने में हमारी बहुत मदद भी करता है। अगर आप रोजाना लहसुन की 5 कलियाँ खाये तो काफी हद तक आप दिल की बीमारियों से बच सकते है।

सर्दी-जुखाम से राहत – जब कभी भी आपको सर्दी या जुखाम हो जाए तो लहसुन का इस्तेमाल ज़रूर करे ,हम सभी जानते है की सर्दी-जुखाम वाइरल इंफेक्शन की वजह से होता है –लहसुन में एंटी बैक्टीरियल,एंटी वाइरल,एंटी फंगल,एंटी ऑक्सीडेंट के गुण पाए जाते है जो सर्दी – जुखाम में हमारी काफी मदद करता है – और बहारी इंफेक्शन से भी बचाता है, टी बी और खांसी में लहसुन बेहद फायदेमंद होता है। लहसुन के रस की कुछ बुँदे रुई पर डाल कर सूंघने से सर्दी ठीक हो जाती है। लहसुन फेफड़ो की जकड़न को दूर करने में मदद करता है। और सर्दी जुखाम को रोकने में सहायता करता है। (garlic in hindi)

इसके अलावा 1 लहसुन की कलिया छील कर सुबह पानी के साथ निगलने पर आपको काफी फायदा मिलेगा इससे आपके ब्लड में केलोस्ट्रॉल की मात्रा निरन्त्रित रहती है। और ब्लड प्रेशर भी कंट्रोल में रहता है। प्रेगनेंसी के समय लहसुन खाने से माँ और बच्चे के स्वाथ दोनों के लिए ही लाभदायक होता है। ये गर्भ में पल रहे बच्चे के वजन को बढ़ाता है ,प्रेगनेंट महिला को यदि हाई ब्लड प्रेशर है तो लहसुन का सेवन करते रहना चाहिए।

100gm सरसो के तेल में 2 gm अजवाई और 2 बड़े लहसुन काट कर मिक्स करे और इसे पकाये जब लहसुन और अजवाई पक कर काली हो जाए तब आपको इस तेल को ठंडा करके किसी भी बोतल में भर ले इस तेल को हल्का सा गुनगुना कर के इसकी मालिश करे तो हर प्रकार का बदन दर्द दूर हो जाता है

कान का दर्द – आपके कानो में दर्द या किसी प्रकार का संक्रमण हो तो लहसुन कुछ कलिया को गर्म कर के उसका तेल निकल ले और उसे अपनी कान में डाले दर्द के साथ साथ संक्रमण भी ख़तम हो जायेगा।

गठिया और जोड़ो के दर्द – में भी लहसुन का सेवन बहुत ही फायदेमंद होता है। इसके अलावा पाचन तंत्र को मजबूत बनाने के लिए हर दिन खाना खाने के बाद लहसुन की कुछ कलिया ज़रूर खाये, जब भी आप मीट या कोई भी वासा वाला खाना खाये तब भी लहसुन खाये

लहसुन से होने वाले नुकसान –

अब जानते है की लहसुन खाने से क्या क्या साइड इफेक्ट हो सकते है। जैसा की आप जानते ही है की लहसुन हमारे लिए बहुत ही फायदे मंद है आप सोच रहे होँगे की लहसुन के इतना गुणकारी होने के बाद भी ये हमारे लिए नुकसानदायक कैसे हो सकता है।

पर आपको ये भी पता होना चाहिए की किसी भी चीज़ को बहुत ज़्यादा मात्रा में खाने से उसके कुछ नुकसान भी हो सकते है। जैसे बहुत से लोगो को लहसुन से एलर्जी होती है ऐसे लोगो को लहसुन के दूर ही रहना चाहिए इससे आपको परेशानी भी हो सकती है।

इसलिए इसका इस्तेमाल करने से पहले एक बार ज़रूर सोच ले। अगर आप कच्चा लहसुन खा रहे है तो आपको – (उलटी,दस्त,गैस,या पेट) फूलने जैसी समस्या हो सकती है,

लहसुन को खाने से खून पतला होता है इसलिए यदि आपको कोई सर्जरी करवानी है तो लहसुन का इस्तेमाल न करे।

महिलाओं को प्रीयडस के समय लहसुन नहीं खाना चाहिए ये खून को पतला कर देता है जिससे खून ज़्यादा बह सकता है। ऐसे लोग जिसका ब्लड प्रेशर कम होता है उन लोगो को लहसुन का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। लहसुन खाने से मुँह से बदबू भी आ सकती है।

लहसुन का उपयोग कैसे करे ?

लहसुन का उपयोग सब्जियों में तो कम से कम ही किया जाता है। पर आप चाहे तो पहले से थोड़ा ज़्यादा मात्रा में आप डाल सकते है ,या लहसुन का पेस्ट बना कर भी इसका इस्तेमाल कर सकते है।

इसका सेवन आप सुप में भी कर सकते है। यदि आप चाहे तो लहसुन की कलियों को घी में या वैसे भी भून कर खा सकते है। बहुत से लोग लहसुन की चाय भी पीते है और अगर आपको अच्छा लगे तो आप भी पी सकते है।

अगर आपको लहसुन की स्मेल अच्छी नहीं लगती वजह मुँह से लहसुन की बदबू आना। – और अगर आपको इसकी बदबू नहीं चाहिए तो लहसुन छील कर इसे उबाल ले और फिर इसे दही के साथ मिक्स कर के भी खा सकते है फिर आपको इसकी बदबू नहीं आएगी।

आपको भी रोजाना अपने खाने में लहसुन का सेवन करना चाहिए अब आपने तो जान ही लिया होगा की लहसुन खाने से आपको क्या क्या फायदे मिल सकते है।

AMIThttp://healthkikahani.com
Hello Friends, Mera Naam Amit Masih Hai Aur Ye WWW.healthkikahani.com Mera Blog Hai, Jis par Aapko Hindi Me Health Se Related Subhi Jankari Milegi.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments