HomeHEALTH INFORMATIONपेशाब की नली में पथरी का इलाज kidney stone 2021

पेशाब की नली में पथरी का इलाज kidney stone 2021

KIDNEY STONE (किडनी स्टोन)

पेशाब की नली में पथरी का इलाज
पेशाब की नली में पथरी का इलाज

images created by- kidney Ayurveda, image name – remove-kidney-stone-naturally


पेशाब की नली में पथरी का इलाज – 

 
किडनी हमारे शरीर का एक बहुत ही खास अंग होता है ,जिसका काम हमारे रक्त को साफ़ तो करता ही है साथ ही साथ हमारे शरीर से टॉक्सिन को भी बहार निकलने का काम भी करता है।   तो चलिए पहले हम अपने किडनी के बारे में कुछ ज़रूरी बाते भी जान ले –

ये भी पढ़े 12 मिनट में अनिद्रा का इलाज कैसे करें हमारे शरीर का एक बहुत ही खास अंग है किडनी।  ये हमारे शरीर में कई प्रकार की सफाई का काम करता है।  किडनी हमारे शरीर से गन्दगी को बहार निकलता है और शरीर को साफ़ और तंदुरुस्त बनाता है।  या हम कह सकते है की कई जान लेवा बीमारियों से हमे बचता भी है।

 दोनों किडनियों में खून साफ़ होता है किडनी में होने वाले सफाई के क्रिया के कारण हमारे शरीर में रहने वाले बहुत ही हानिकारक केमिकल्स पेशाब के रास्ते शरीर से बहार निकल जाता है।  लेकिन आज कल के ख़राब लाइफ स्टाइल और कई प्रकार की गलत खान पान के कारण लोग किडनी पर बहुत ही बुरा असर डाल रहे है।  इससे किडनी में पत्थर यानि पथरी होने का खतरा बहुत ज़्यादा बढ़ता ही जा रहा है।

किडनी में स्टोन ये एक रोग है।  जिसमे किडनी के अंदर छोटे-छोटे पत्थर जैसे कठोरता बन जाती है ,जिन्हे हम पथरी (stone) कहते है। आम तोर पर ये पत्थर मूत्र के रस्ते से शरीर से बाहर भी निकल जाता है।  कई लोगो में पथरिया बनती है और कभी कभी बिना किसी परेशानी या तकलीफ के निकल भी जाती है।  लेकिन अगर पथरी बड़ी हो जाए तो किडनी और इसके आस-पास बहुत दर्द होता है जैसे – पेट से सुरुवात होती है और धीरे धीरे ये कमर तक भी दर्द चले जाता है जो बहुत ही तेज़ दर्द होता है।  


जिन लोगो को शुगर की बीमारी होती है।  उन लोगो को किडनी की पथरी होने की ज़्यादा संभावना होती है। पथरी की बीमारी महिलाओ के अपेक्षा पुरुषो को ज़्यादा होती है इसके पीछे कई जेनिटिक कारण,टेंसन ,मोटापा शुगर,या आंतो से कोई भी जुडी समस्या हो सकती है।  किडनी के पथरी में पेट में या कमर में बहुत तेज़ दर्द होता है जो कुछ मिनटों या कुछ घंटो तक भी बना रहता है।

इसमें दर्द के साथ-साथ जी मचलता है,और उलटी भी हो सकती है। अगर मूत्र के मार्ग में कोई इंफेक्शन है तो इन लक्षणों में आपको बुखार,कंपकंपी,पसीना आना,पेशाब आने में दर्द,मूत्र का रंग बदल जाना या साथ ही पेशाब के साथ खून का आना भी हो सकता है किडनी की पथरी से लोगो का मूत्र का रंग थोड़ा बदल सा जाता है ये गुलाबी,लाल या भूरे रंग का भी आ सकता है। स्टोन के बढ़ने और मूत्र मार्ग का कुछ हिस्सा बंद होने से मूत्र में खून के कण भी आ सकते है

किडनी स्टोन के इलाज के लिए कई प्रकार की दवाइया भी उपलब्ध है। और ऑपरेशन से भी इसका इलाज होता है। और साथ ही साथ घरेलु उपचारो में भी इसका इलाज संभव है।  


क्या पथरी अधिक उम्र वाले व्यक्ति को ही होती है ?

 
images created by- kidney Ayurveda, image name – symptoms of kidney stone

— अगर आयुर्वेद की बात करे तो ये जवान (young) लोगो को ज़्यादा होता है क्युकी इस उम्र (age) में कप का प्रकोप ज़्यादा होता है। ( या शरीर में गर्मी का प्रभाव ज़्यादा होना ) । 

पथरी के बार -बार  बनने का कारण और इसे रोकने के उपाए। 

सबसे पहले बात करते है की पथरी बार बार क्यों बन रहा है ?-  पथरी बनने का सबसे बड़ा कारण है आपका गलत खान पान जब आप बहुत ज़्यादा मसालों वाला खाना या ऑयली खाना या सही टाइम पर खाना न खाना या बाहरी चटपटे खाने को ज़्यादा खाना,और पानी कम पीना  ये सारे कारण है की आपके शरीर में या किडनी में बार बार पथरी बनती रहती है या बढ़ती ही रहती है। पथरी एक प्रकार का रसायन ही होता है

 जो हमारे कई तरह के भोजन से बनता है पर ये ऐसा रसायन होता है जिसकी शरीर में कोई जगह नहीं होती है ये रसायन को मूत्र के रस्ते से निकल जाना होता है पर कम पानी पिने से ये आपके किडनी में धीरे धीरे जमने लगती है और हमेशा गलत खान पान खाने से ये और बढ़ने लगती है।  —उपाए – अगर आप हर दिन 10 से 12 गिलास पानी का सेवन करते है तो पथरी का बढ़ना रुक जाता है और अगर होम्योपैथीक या घरेलु उपचार भी करते है तो किडनी की पथरी पेशाब की नाली से बहार निकल जाता है।  पर पथरी का आकर 8 mm से कम होना चाहिए।

और जो 8 mm से ज़्यादा बड़ी पथरी हो जाती है उन लोगो का बहुत ही कम मूत्र के रस्ते से निकल पाता है. इनको ऑपरेशन करवाना चाहिए अगर ज़्यादा दर्द या इंफेक्शन बढ़ चूका है तो क्युकी आगे ये पथरी और बड़ी होती जाती है।

अब जानते है इसके इलाज के बारे में।  
 
—   सबसे पहले जानते है की दूरबीन से ऑपरेशन के बारे में। (laparoscopy operation)
 
 सबसे पहले जानते है की दूरबीन से ऑपरेशन के बारे में। (laparoscopy operation)
इस सर्जरी में सर्जर दूरबीन की सहायता से ऑपरेशन करते है  laparo का मतलब होता है की मरीज की बीमारी को बिना चीरा लगाए बहार से ही कुछ हिसो में छेद कर के  अपने स्कोपी यंत्र डाल कर सर्जेरी करते है।  — और  scopy का मतलब होता है की सर्जर मरीज के पेट में नहीं देखते सर्जर अपने बड़े कम्प्यूटर के स्कीन में देख कर सर्जेरी करते है।  इसमें मरीज का पेट को बड़ा चीरा नहीं लगाना पड़ता है , और ये सर्जेरी बहुत सेफ होता है।
दूसरा इलाज है – होम्योपैथीक ( homoeopathic ) 
इसमें चार दवाइया आती है
1. berberis Vulgaris Q 
 
2. hydrangeas Q 
 
3. pareira brava  Q 
 
4. Urtica urense Q  

इन सभी दवाइयों को मिला कर 20 बून्द एक चौथाई कप पानी के साथ दिन में 3 बार ले।

तीसरा इलाज है पत्थर चट्टा –

यह एक पौधा है जिसकी पैत्तिया खाने से आपके किडनी या पेशाब की नाली का पथरी धीरे-धीरे टूट टूट कर निकल जाता है पर आपका पथरी का साइज 8 mm से छोटा होना चाहिए।  इसे आप हर रोज़ 2 -3  पत्तिया खाये ये आपके पथरी पर बहुत असर करता है।

चौथा इलाज है kidflame टेबलेट। 

ये एक टेबलट है जो किडनी स्टोन के लिए ही है आप इसे अपने डॉक्टर से पूछ कर ले सकते है वैसे ये टेबलेट खुद डॉक्टर ही देते है अपने मरीजों को तो आप भी इसे इस्तेमाल कर सकते है।


पेशाब की नली में पथरी का इलाज
पेशाब की नली में पथरी का इलाज

तो आप इनमे कोई भी इस्तेमाल कर सकते है और एक बार अपने डॉक्टर से अपने किडनी के पथरी या पेशाब की नाली की पथरी चेकअप ज़रूर कराये।

इस ब्लॉग को पढ़ने के लिए धन्यवाद। 

AMIThttp://healthkikahani.com
Hello Friends, Mera Naam Amit Masih Hai Aur Ye WWW.healthkikahani.com Mera Blog Hai, Jis par Aapko Hindi Me Health Se Related Subhi Jankari Milegi.

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments